Jharkhand Gk in Hindi 2021-22 Practice set 6 : प्रागैतिहासिक काल में झारखण्ड 2022 महत्वपूर्ण प्रश्न

Share on Social Media

Jharkhand Gk in Hindi 2021-22 Practice set 6 : प्रागैतिहासिक काल में झारखण्ड 2022 महत्वपूर्ण प्रश्न

Important Topic

नमस्कार दोस्तों आक्सर प्रतियोगिता परीक्षाओं में सामान्य ज्ञान ( General Knowledge ) से प्रश्न पूछे जाते हैं. अभी कुछ ही दिनों में JSSC CGL और उत्पाद सिपाही ( Excise Constable ) का एग्जाम होने वाली है . इन परीक्षाओं में झारखण्ड सामान्य ज्ञान ( jharkhand Gk in english ) को बहुत ही महत्व दिया गया है और jharkhand सामान्य ज्ञान ( jharkhand General Knowledge ) से 40 से 60 प्रश्न पूछे जाएँगे. तो दोस्तों आपको अगर इन परीक्षाओं में पास करना है

तो आपको jharkhand Gk pdf 2022 को बहुत ही बेहतर तरीके से याद करना होगा ताकि परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर सकें.इसलिए दोस्तों में आप सभी के लिए jharkhand Gk 2022 in Hindi प्रक्टिस सेट लेकर आया हूँ दोस्तों इस jharkhand सामान्य ज्ञान के प्रक्टिस सेट में आपको 10 महत्वपूर्ण प्रश्न हैं जो बहुत ही महत्वपूर्ण हैं एवं कई बार परीक्षाओं में पूछे जा चुके हैं.

Jharkhand Gk in Hindi
Jharkhand Gk in Hindi Practice Set 6

झारखण्ड से सम्बंधित सभी सामान्य ज्ञान ( Jharkhand gk in Hindi 2021-22 ) के प्रश्न जो झारखण्ड के सभी सरकारी  प्रतियोगिता परोक्षाओं के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, इसलिए झारखण्ड से सम्बंधित सामान्य ज्ञान ( General Knowledge )के प्रश्नों को भी जानना एवं याद करना जरुरी है इसी को देखते हुए मै लेकर आया हूँ कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न जो सरकारी जॉब के प्रतियोगिता परीक्षाओं में पूछे जा सकते हैं आज हमलोग देखेंगे प्रागैतिहासिक काल में झारखण्ड Jharkhand in prehistoric times)से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्नों को.

प्रागैतिहासिक काल किसे कहते हैं?

वह काल जिसके लिए कोई लिखित साक्ष्य उपलब्ध नहीं है, बल्कि पुर्णतः पुरातात्विक साक्ष्यों पर निर्भर रहना पड़ता है, उसे प्रागैतिहासिक काल कहते हैं.

प्रागैतिहासिक काल के अंतर्गत कितने काल आते हैं?

प्रागैतिहासिक काल के अंतर्गत तीन काल आते हैं-

  1. पुरापाषाण काल
  2. मध्य पाषाण काल
  3. नव पाषाण काल

1). पूरा पाषाण काल – इसका कालक्रम 25 लाख ई.पू. से 10 हजार ई. पू. तक माना जाता है, इस काल के लोग आखटेक ( शिकारी) एवं खाद्य संग्राहक थे. इस काल में कृषि का ज्ञान नहीं था तथा पशुपालन का प्रारंभ नहीं हुआ था. इस काल में आग की जानकारी हो चुकी थी, परन्तु उसके उपयोग का ज्ञान नहीं था. jharkhand में इस काल के अवशेष हजारीबाग,बोकारो,राँची,देवघर,पश्चिमी सिंहभूम,पूर्वी सिंहभूम आदि छेत्रों से प्राप्त हुए हैं. हजारीबाग से पाषाण कालीन मानव द्वारा निर्मित पत्थर के औजार मिले हैं.

2). मध्य पाषाण काल – इसका कालक्रम 10,000 ई.पू. से 4,000 ई.पू. तक माना जाता है.इस काल में पशुपालन की शुरुआत हो चुकी थी. jharkhand में इस काल के अवशेष दुमका, पलामू,धनबाद,राँची,पश्चिमी सिंहभूम,पूर्वी सिंहभूम आदि छेत्रों से प्राप्त हुए हैं.

3). नव पाषाण काल – इसका काल क्रम 10,000 ई.पू. से 1,000 ई.पू. तक माना जाता है. इस काल में कृषि की शुरुआत हो चुकी थी. इस काल में आग के उपयोग तथा कुम्भ्कारी का प्रारंभ हो चूका था. jharkhand में इस काल के अवशेष,राँची,लोहरदगा,पश्चिमी सिंहभूम,पूर्वी सिंहभूम आदि छेत्रों से प्राप्त हुए हैं.

निचे दी गए jharkhand Gk online Test में आपको 10 प्रश्न दी गए हैं दोस्तों सभी प्रश्न आने वाले सभी exams ( Jssc CGL, Excise Constable, jharkhand Police,Clerk,Diploma ) इत्यादि के लिए महत्वपूर्ण है इसलिए आप इन सभी प्रश्नों का टेस्ट जरुर दें.टेस्ट के बाद आपको अपना रिजल्ट भी बताया जाएगा कि आपका कितना प्रश्न सही हुआ और कितना गलत हुआ.

प्रागैतिहासिक काल में झारखण्ड से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर Practice set 6

Results

Share on Social Media


Share on Social Media
Share on Social Media


Share on Social Media

#1. 1) jharkhand राज्य की प्राचीनतम जनजाति है-

#2. 2) कांस्य युगीन औजारों का प्रारंभकर्ता किस जनजाति को माना जाता है?

#3. 3) झारखण्ड के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन असत्य है?

#4. 4) नव पाषाण काल में प्राप्त 12 हस्त कुठारों में से कितने हस्त कुठार छोटानागपुर प्रदेश में पे गए हैं?

#5. 5) झारखण्ड में ताम्र पाषाण काल का केंद्रबिंदु निम्न में कौन-सा स्थान था?

#6. 6) jharkhand के किस स्थान से तांबे की 49 खानों के अवशेष प्राप्त हुए हैं, जिसका सम्बन्ध ताम्र पाषाण काल से है?

Finish

1) jharkhand राज्य की प्राचीनतम जनजाति है-
a) संथाल
b) हो
c) बिरजिया
d) असुर
2) कांस्य युगीन औजारों का प्रारंभकर्ता किस जनजाति को माना जाता है?
a) असुर
b) हो
c) मुंडा
d) उराँव
3) झारखण्ड के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन असत्य है?
a) यहाँ के वनों में आदिम जनजातियों का निवास था.
b) प्राचीन काल में यहाँ नागवंशी,सिंह,चेर,तथा रक्सेल राजाओं के अधीन स्वतंत्र राज्य का शासन किया गया.
c) लम्बे समय तक यह छेत्र बाहरी दुनिया से कटा हुआ था.
d) प्रागैतिहासिक काल में छोटानागपुर छेत्र घनघोर वनों से आच्छादित था.
4) नव पाषाण काल में प्राप्त 12 हस्त कुठारों में से कितने हस्त कुठार छोटानागपुर प्रदेश में पे गए हैं?
a) 8 प्रकार
b) 10 प्रकार
c) 12 प्रकार
d) 11 प्रकार
5) झारखण्ड में ताम्र पाषाण काल का केंद्रबिंदु निम्न में कौन-सा स्थान था?
a) पलामू
b) सिंहभूम
c) लोहरदगा
d) धनबाद
6) jharkhand के किस स्थान से तांबे की 49 खानों के अवशेष प्राप्त हुए हैं, जिसका सम्बन्ध ताम्र पाषाण काल से है?
a) सिंहभूम
b) वीरभूम
c) विलकिंसंगंज
d) बाहरगंडा

दोस्तों अगर आप सरकारी नौकरी की तयारी कर रहे हैं तो आप हमारे साथ social Media में जुड़े रहें आपको निचे सभी प्लेटफोर्म का लिंक मिल जाएगा.

Join Us on Facebook PageClick Here
Join Us on InstagramClick Here
Join Us on TelegramClick Here
Join Us on YoutubeClick Here
Join Us on TweeterClick Here

आशा है आप सभी को यह सभी jharkhand सामान्य ज्ञान ( jharkhand Gk in Hindi 2022 ) के सभी प्रश्न पसंद आए होंगे और आप सभी प्रश्नों को याद कर लिए होंगे यह सभी प्रश्न बहुत ही महत्वपूर्ण हैं आपको यह टेस्ट पसंद आया है तो आप इसे आपने दोस्तों के साथ Whatsapp,Facebook इत्यादि में शेयर जरुर करें जिससे सभी की मदद हो सके.


Share on Social Media

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Top 10 cheapest car insurance companies Top 10 richest people in the world in 2024 Gk Questions : विश्व की सबसे बड़ी Airport Authority of India Recruitment 2024 Interesting Gk Questions in Hindi- सामान्य ज्ञान
Top 10 cheapest car insurance companies Top 10 richest people in the world in 2024 Gk Questions : विश्व की सबसे बड़ी Airport Authority of India Recruitment 2024 Interesting Gk Questions in Hindi- सामान्य ज्ञान
%d bloggers like this: